Follow my blog with Bloglovin

हरेली त्यौहार क्या है और कैसे मनाया जाता है छत्तीसगढ़ में

दोस्तों आज मैं आपको बताऊंगा हरेली त्यौहार छत्तीसगढ़ के बारे में

Chhattisgarh Hareli Festivals 2021 : छत्तीसगढ़ का सबसे पहला त्यौहार, हरेली त्यौहार छत्तीसगढ़ में मनाया जाता है। इस त्यौहार को छत्तीसगढ़ के वाशी बहुत धूम -धाम से मानते है। ये हरेली त्यौहार छत्तीसगढ़ की संस्कृति और छत्तीसगढ़ का पहचान है।

हरेली त्यौहार हर वर्ष सावन महीने के अमावस्या तिथि को बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। यह त्यौहार लोकप्रिय त्यौहार है। इस दिन छत्तीसगढ़ (Hareli Tihar) में अनेक प्रकार के कार्यक्रम भी देखे जाते हैं। Chhattisgarh Hareli Festivals 2021 हरेली का मतलब हरियाली होता है छत्तीसगढ़ वासी इस दिन पूरे विश्व में हरियाली छाई रहे और हमेशा सुख शांति बनी रहे ऐसा कामना करते हुए इस त्यौहार को मनाया जाता है। इस दिन घर में सुबह से मां, दादी भाभी, चाची उठ कर चावल का चीला बनाने का प्रबंध करती हैं। क्योंकि इसे चिला को फावड़ा, कुदारी, नांगर, गैति आदि में चढ़ाकर पूजा की जाती है।

What is Hareli festival and how is it celebrated in Chhattisgarh
What is Hareli festival and how is it celebrated in Chhattisgarh

हरेली तिहार को पुरे छत्तीसगढ़ में किसान बैलों और हल की करते हैं विशेष पूजा. ग्रामीण क्षेत्रों में हरेली पर्व में अन्नदाता बैलों और हल सहित विभिन्न औजारों की विशेष पूजा करने के बाद खेती-किसानी का काम शुरू करते हैं। हरेली पर्व पर गेड़ी का बहुत ही महत्व है। प्रत्येक घर में गेड़ी का निर्माण किया जाता है, घर में जितनी युवा बच्चे होते हैं इतनी ही गेड़ी का निर्माण किया जाता है। कहीं-कहीं गेड़ी दौड़ प्रतियोगिता भी रखी जाती है। इसके आलवा गांवों में बैल दौड़ प्रतियोगिता भी होता है। राजधानी के बारियाखुद में गेड़ी दौड़ के अलावा गेड़ी में चढ़कर फुटबाल खेला गया। जिसे देखने के लिए काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ हरेली तिहार के बारे में 

राज्य का नाम – छत्तीसगढ़ राज्य
त्यौहार का नाम – हरेली तिहार
मनोरंजन प्रतियोगिताएं – गेड़ी, रस्साकशी, मटकी फोड़, जलेबी दौड़, नारियल फेक आदि
परंपरा/सस्कृति – छत्तीसगढ़ी संस्कृति
हरेली तिहार तिथि –  8 अगस्त 2021

 

हरेली तिहार छत्तीसगढ़ के महत्पूर्ण जानकारी 

हरियाली अमावस्या को पुरे छत्तीसगढ़ राज्य में हरेली तिहार मनाया जाता है इस से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी –

  1. हरेली त्यौहार छत्तीसगढ़ का सबसे पहला त्यौहार है।
  2. इसे छत्तीसगढ़ वासी बड़े ही धूमधाम से मनाते हैं।
  3. छत्तीसगढ़ की संस्कृति और छत्तीसगढ़ का पहचान हरेली त्यौहार है।
  4. हरेली त्यौहार हर वर्ष सावन के महीने को अमावस्या तिथि में मनाया जाता है।
  5. यह त्यौहार लोकप्रिय त्यौहार है।
  6. हरेली त्यौहार के दिन हमें अनेक प्रकार के कार्यक्रम देखने को मिलते हैं।
  7. हरेली का मतलब हरियाली होता है।
  8. छत्तीसगढ़ वासी इस दिन पूरे विश्व में हरियाली छाई रहे और हमेशा सुख शांति बनी रहे ऐसा कामना करते हुए इस त्यौहार को मनाते हैं।
  9. छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा भी कहा जाता है।

Leave a Comment