प्रतिवेदन किसे कहते हैं ? प्रतिवेदन के उद्देश्य एवं विशेषताओं की चर्चा कीजिए। What is the report called? Discuss the purpose and features of the report.

31
139

“किसी घटना, व्यक्ति, वस्तु के उद्देश्य पूर्ण निरीक्षण के पश्चात् तैयार किया गया सम्पूर्ण विवरण प्रतिवेदन कहलाता है।” प्रतिवेदन घटना, व्यक्ति, वस्तु की वास्तविक स्थिति प्रस्तुत करने के साथ-साथ उपादेयता का भी परीक्षण प्रस्तुत करता है।

प्रतिवेदन के उद्देश्य-

1. विभागों, उपविभागों के क्रिया-कलापों का लिखित ब्यौरा तैयार करना।

2. व्यक्ति विशेष, संस्था, संगठन के जाँच अधिकारी द्वारा विवरणात्मक तथ्य प्रस्तुत करना ।

3. कार्यक्रम एवं आयोजन का लिखित ब्यौरा प्रेषित करने के लिए आवश्यक।

4. धारणाओं एवं विचारों का तथ्यात्मक सम्प्रेषण

प्रतिवेदन की विशेषताएँ-

(1) शैली वस्तुनिष्ठ एवं भाषा, सरल, स्पष्ट अभिधामूलक होती है। (2) शैली औपचारिक एवं निवैयक्तिक होनी चाहिए।

(3) सम्पूर्णता के साथ तथ्यों का सम्प्रेषण होना चाहिये। (4) प्रतिवेदन सटीक एवं संक्षिप्त होना चाहिये।

(5) क्रमबद्धता के साथ प्रतिवेदन लिखा जाना चाहिये। (6) तथ्यपरकता होनी चाहिये।

(7) पारिभाषिक शब्दावली का प्रयोग आवश्यक है। (8) प्रतिवेदन लिखने के पूर्व वर्ण्य विषय का तथ्यपरक जाँच आवश्यक है।

(9) प्रतिवेदक को तटस्थ रहना चाहिये। (10) प्रतिवेदन में प्रतिवेद्य एवं प्रतिवेदक आवश्यक है। (11) विषय के अनुरूप भाषा का प्रयोग करना चाहिये।

31 COMMENTS

  1. Получить услуги и консультацию юристов можно как офисах компании, так и онлайн. Задайте вопрос по телефону, мессенджер WhatsApp или оставьте заявку на обратный звонок через форму обратной связи. Для проведения консультации юрист соответствующей тематики свяжется с вами в ближайшее время юрист по жилищным вопросам барнаул

  2. Получить услуги и консультацию юристов можно как офисах компании, так и онлайн. Задайте вопрос по телефону, мессенджер WhatsApp или оставьте заявку на обратный звонок через форму обратной связи. Для проведения консультации юрист соответствующей тематики свяжется с вами в ближайшее время

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here