प्रश्नावली किसे कहते हैं ? एक श्रेष्ठ प्रश्नावली के आवश्यक गुण क्या हैं ? संगणकों का चुनाव करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए What is a Questionnaire? What are the essential qualities of a good questionnaire? What are the factors to be kept in mind while choosing computers?

0
56

प्रश्नावली का अर्थ एवं परिभाषा (Meaning and Definition of Questionnaire)

प्रश्नावली का प्रमुख उद्देश्य अध्ययन विषय से सम्बन्धित प्राथमिक तथ्य सामग्री एकत्र करना होता है। प्रश्नावली से आशय उस व्यवस्थित तालिका से है जो विषय के सन्दर्भ में सूचनाएँ प्राप्त करने में सहयोग प्रदान करती है। सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक सर्वेक्षणों में तथ्यात्मक जानकारी ज्ञात करने में प्रश्नावली का योगदान अति महत्वपूर्ण है।

सामान्य तौर पर किसी विषय से सम्बन्धित व्यक्तियों से सूचना प्राप्त करने के लिये बनायी गयी सुव्यवस्थित प्रश्नों की सूची को प्रश्नावली की संज्ञा दी जाती है।

बोगार्डस के अनुसार, “प्रश्नावली विभिन्न व्यक्तियों को उत्तर देने के लिए दी गई प्रश्नों की एक तालिका है।” गुड़े तथा हॉट के अनुसार, “सामान्य रूप से प्रश्नावली शब्द प्रश्नों के उत्तर प्राप्त करने की उस प्रणाली को कहते हैं, जिसमें स्वयं उत्तरदाता के द्वारा भरे जाने वाले पत्रक (Form) का प्रयोग किया जाता है।

इस प्रकार प्रश्नावली विभिन्न प्रश्नों की एक ऐसी व्यवस्थित सूची है जिसका उद्देश्य किसी विषय से सम्बन्धित समस्या के लिए व्यक्तियों से डाक द्वारा सूचनाएँ प्राप्त करना है। दूसरे शब्दों में समंकों को संकलित करने की वह विधि है जिसमें संकलनकर्ता प्रश्नों के आगे छोड़ी गयी खाली जगह में ही उसके उत्तर को हौं या नहीं में पूछता है, उसे प्रश्नावली कहते हैं।

प्रश्नावली के प्रकार (Types of Questionnaire) विद्वानों द्वारा बताये गये प्रश्नावली के विभिन्न प्रकार निम्नलिखित हैं (1) तथ्य सम्बन्धी प्रश्नावली यह प्रश्नावली सामाजिक तथ्यों को एकत्र करने में उपयोग में ली जाती है।

(2) मत तथा मनोवृत्ति सम्बन्धी प्रश्नावली यह उत्तरदाता की अभिरुचि से सम्बन्धित सूचनाओं को प्राप्त करने के उपयोग में आती है।

(3) संरचित प्रश्नावली- इस प्रकार की प्रश्नावली की रचना अनुसंधान प्रारम्भ करने के पूर्व ही कर ली जाती है।

(4) असंरचित प्रश्नावली-इसके अन्तर्गत प्रश्नों को पहले से नहीं बनाया जाता है बल्कि मात्र अध्ययन, विषय, क्षेत्र आदि के सम्बन्ध में उल्लेख किया जाता है।

(5) खुली प्रश्नावली-जिन प्रश्नावलियों में उत्तरदाताओं को अपना उत्तर व्यक्त करने में पूर्ण स्वतन्त्रता हो, उसे खुली प्रश्नावली कहते हैं। इसमें वह अपनी स्वेच्छा से उत्तर दे सकता है। उस पर किसी प्रकार का दनान नहीं लगाया जाता है।

(6) चित्रमय प्रश्नावली इस तरह की प्रश्नावली में प्रश्नों के उत्तर चित्रों द्वारा प्रदर्शित किये जाते हैं। उत्तरदाता के समक्ष अलग-अलग चित्र होते हैं जिनके आगे लिखा होता है कि क्या आप छोटे परिवार को पसन्द करते हैं या बड़े परिवार को ? इसमें चित्रों द्वारा छोटे एवं बड़े परिवार बताये जाते हैं। उत्तरदाता को अपनी पसन्द के अनुसार सिर्फ उस पर निशान लगाना होता है। यह प्रश्नावली विशेष रूप से कम पढ़े-लिखे लोगों तथा बच्चों के लिए। अधिक उपयोगी होती है।

एक आदर्श प्रश्नावली के गुण(Essentials of an Ideal Questionnaire)

सांख्यिकी अनुसंधान की सफलता प्रश्नावली की श्रेष्ठता पर निर्भर करती है। अतः एक आदर्श प्रश्नावली तैयार करते समय निम्नलिखित बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए (1) प्रश्नों की संख्या कम (Fewer Questions)- प्रश्नावली में प्रश्नों की संख्या कम होनी चाहिए। लेकिन यह ध्यान रखना चाहिए कि प्रश्न इतने कम न हो जाएँ कि पर्याप्त सूचना ही प्राप्त न हो सके।

(2) सरल व स्पष्ट प्रश्न (Simple and Clear Questions)- प्रश्न सरल, स्पष्ट व सूक्ष्म होने चाहिए। अधिकांश प्रश्न ऐसे होने चाहिए जिनका उत्तर ‘हो’ या ‘नहीं’ में दिया जा सके प्रश्नों में अप्रचलित, जटिल व असम्मानसूचक शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

(3) उचित क्रम (Logical Sequence)- प्रश्न प्राथमिकता अथवा महत्व के क्रम में रखे जाने चाहिए। परस्पर सम्बन्धित प्रश्नों को एक ही स्थान पर केन्द्रित किया जाना चाहिए; जैसे

(i) क्या आप विवाहित हैं ?

(ii) यदि हाँ तो आपके कितने बच्चे हैं ? (4) वर्जित प्रश्न (Prohibited Questions)- प्रश्नावली में ऐसे प्रश्न सम्मिलित नहीं

किए जाने चाहिए जिनसे सूचक के आत्मसम्मान तथा सामाजिक व धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचे, जो उनके मन में सन्देह, उत्तेजना या विरोध उत्पन्न करे अथवा जो उसके व्यक्तिगत व्यवहार से सम्बन्धित हों; जैसे

(i) “क्या आप किसी एड्स से पीड़ित हैं ?” (ii) “क्या आप साम्प्रदायिक भावना से पीड़ित हैं ?”

(iii) “क्या आपका प्रेम पत्नी के अतिरिक्त किसी और स्त्री से भी है ? आदि ?” (5) सत्यता की जाँच (Cross-examination) प्रश्नावली में ऐसे प्रश्नों का भी समावेश होना चाहिए जिससे उत्तरों की यथार्थता की परस्पर जाँच की जा सके।

(6) प्रश्नों में उचित शब्दों का प्रयोग (Use of Proper Words in Questions) – प्रश्नों के गठन में सही स्थान पर सही शब्दों का प्रयोग किया जाना चाहिए। प्रश्न ऐसे होने चाहिए जिनके अर्थ प्रमापित एवं सर्वविदित हों।

(7) प्रत्यक्ष सम्बन्ध (Directly Related)- प्रश्न अनुसंधान से प्रत्यक्ष रूप से सम्बन्धित होने चाहिए ताकि व्यर्थ की सूचना एकत्र करने में धन, श्रम व समय का अपव्यय न हो।

(8) सूचक की योग्यता के अनुसार प्रश्न (Questions According to Knowledge of the Informant)- प्रश्नावली में ऐसे प्रश्न होने चाहिए जिनके उत्तर सरलता से दे दें।

(9) आवश्यक निर्देश (Necessary Instructions) प्रश्नावली भरने के सम्बन्ध में प्रश्नावली के प्रारम्भ में अथवा अन्त में स्पष्ट रूप से आवश्यक निर्देश दिए जाने चाहिए ताकि सूचक को सूचना देने में आसानी हो।

(10) पूर्व परीक्षण एवं संशोधन (Pre-testing and Rectification)–प्रश्नावली के तैयार हो जाने पर, अनुसंधान कार्य प्रारम्भ करने से पूर्व उसका कुछ लोगों पर परीक्षण कर लेना चाहिए। इससे प्रश्नावली के दोषों को दूर करने में सहायता मिलेगी।

प्रगणकों का चुनाव करते समय ध्यान रखी जाने वाली बातें (Points should be taken into Consideration while Selection the Enumerators)

प्रगणकों का चुनाव करते समय निम्नलिखित बातों का ध्यान रखा जाना चाहिए-

1. प्रगणक निपुण एवं धैर्यवान हो ।

2. वह निष्पक्ष एवं ईमानदार हो।

3. वह अनुभवी एवं व्यवहार कुशल हो।

4. वह अपने कार्य में विशेष रुचि रखता हो।

5. वह अपने क्षेत्र के सूचकों की भाषा, रीति-रिवाज व उनके वभाव से भली-भाँति परिचित हो।

6. उसने अनुसूची भरने का प्रशिक्षण प्राप्त किया हो।


Meaning and Definition of Questionnaire

The main objective of the questionnaire is to collect primary facts related to the study subject. Questionnaire refers to a systematic table that helps in obtaining information about the subject. The contribution of questionnaire is very important in obtaining factual information in social, economic and political surveys.

Generally, a list of systematic questions made to get information from people related to a subject is called questionnaire.

According to Bogardus, “A questionnaire is a table of questions given to different persons to answer.” According to Goode and Hot, “Question in general refers to a system of obtaining answers to questions by using a form that is to be filled in by the respondent himself.

Thus, a questionnaire is such a systematic list of various questions whose purpose is to receive information by post from persons for a problem related to a subject. In other words, the method of collecting data in which the compiler asks yes or no answer in the blank space left in front of the questions, it is called questionnaire.

Types of Questionnaire The following are the different types of questionnaires described by scholars (1) Fact-related questionnaire This questionnaire is used to collect social facts.

(2) Opinion and Attitude Questionnaire It is used to obtain information related to the interest of the respondents.

(3) Structured Questionnaire- This type of questionnaire is prepared before starting the research.

(4) Unstructured Questionnaire – Under this, questions are not made in advance, but only in relation to the study, subject, area, etc., are mentioned.

(5) Open Questionnaire – The questions in which the respondents have complete freedom to express their answers are called open questionnaires. In this he can answer of his own free will. No donation is put on it.

(6) Pictorial questionnaire In this type of questionnaire, the answers to the questions are displayed by pictures. There are different pictures in front of the respondent, in front of which it is written that do you like small family or big family? In this, small and big families are told through pictures. Respondent has to mark only as per his/her choice. This questionnaire is specially designed for less educated people and children. is more useful.

Essentials of an Ideal Questionnaire

The success of statistical research depends on the superiority of the questionnaire. Therefore, while preparing an ideal questionnaire, special care should be taken of the following things (1) Fewer questions – The number of questions in the questionnaire should be less. But care should be taken that the questions should not be so short that not enough information can be obtained.

(2) Simple and Clear Questions – Questions should be simple, clear and precise. Most of the questions should be such which can be answered in ‘yes’ or ‘no’, obsolete, complicated and disrespectful words should not be used in the questions.

(3) Logical Sequence – Questions should be placed in the order of priority or importance. Related questions should be concentrated in one place; As

(i) Are you married?

(ii) If yes, how many children do you have? (4) Prohibited Questions – Such questions are not included in the questionnaire.

should be done in a way that hurts the self-esteem and social and religious feelings of the pointer, which creates doubt, excitement or opposition in his mind or which is related to his personal behavior; As

(i) “Are you suffering from any AIDS?” (ii) “Are you suffering from communal feelings?”

(iii) “Are you in love with any other woman other than your wife? Etc?” (5) The cross-examination questionnaire should also include such questions so that the correctness of the answers can be mutually checked.

(6) Use of Proper Words in Questions – Correct words should be used at the right place in the formation of questions. Questions should be such that the meanings of which are standard and well-known.

(7) Directly Related – The questions should be directly related to the research so that there is no wastage of money, labor and time in collecting useless information.

(8) Questions According to the Ability of the Informant (Questions According to Knowledge of the Informant) – There should be such questions in the questionnaire, which can be answered easily.

(9) Necessary Instructions In relation to filling the questionnaire, necessary instructions should be given clearly at the beginning or at the end of the questionnaire so that it is easy for the informant to give information.

(10) Pre-testing and Rectification – Once the questionnaire is ready, it should be tested on some people before starting the research work. This will help in removing the defects of the questionnaire.

Points to be taken into Consider ration while Selection the Enumerators)

The following points should be kept in mind while selecting the enumerators:

1. The enumerator should be skillful and patient.

2. He should be fair and honest.

3. He should be experienced and tactful.

4. He takes special interest in his work.

5. He should be well acquainted with the language, customs and nature of the indicators of his area.

6. He/she should have received schedule filling training.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here