31.4 C
Chhattisgarh

DotCom

Home book authors Upendranath Ashk

Upendranath Ashk

Upendranath Sharma “Ashk“, (14 December 1910 – 19 January 1996) was an Indian novelist, short story writer and playwright. He was born in Jalandhar, Punjab. In 1933 he wrote his second short story collection in Urdu called Aurat Ki Fitrat, the foreword of which was written by Munshi Premchand.

‘चाहिये’ क्रिया किस वाक्य संरचना में प्रयुक्त होती है ? उदाहरण...

उत्तर-भाषा के माध्यम से वक्ता या तो कुछ करने को कहता है या किसी बात को न करने के लिये कहता है। प्रथम प्रकार...

स्थान बोधक संरचना किसे कहते हैं ? उदाहरण सहित समझाइए। What...

कुछ शब्द निश्चित स्थान का संकेत देते हैं, जिनसे किसी निश्चित स्थान का बोध होता है, स्थान बोधक संरचना कहते हैं। हिन्दी में स्थानबोधक...

कार्यकारण सम्बन्ध को दर्शाने वाले पाँच वाक्य लिखिए। Write five sentences...

प्रत्येक कार्य का कोई-न-कोई कारण अवश्य होता है। अतः स्वाभाविक रूप से प्रत्येक भाषा में ऐसे शब्द, संरचनाएँ होती हैं, जिनसे कारण कार्य सम्बन्ध...

निम्नलिखित वाक्यों में कौन-सी संरचना है ? What is the structure...

(i)देवी तुम्हारे बिना यह घर घूरा हो जाता। उत्तर विनम्रतासूचक संरचना (ii) अध्यापक को पढ़ाना चाहिए। उत्तर-विधिसूचक संरचना। (iii) सीता को गीत गाना चाहिए। उत्तर-विधिसूचक संरचना (iv)...

सात कालबोधक शब्दों का प्रयोग करते हुए वाक्य बनाइए। Make sentences...

(1) एक क्षण के लिए वह हतप्रभ हो गया। (2) तुम कितने घण्टे पढ़ते हो। (3) मोहन प्रातः घूमने जाता है। (4) कल बहुत गर्मी थी। (5) वह...

कारण कार्य सम्बन्ध को किन-किन शब्दों से अभिव्यक्ति दी जाती है?...

उत्तर-जिन वाक्यों में किसी कार्य अथवा काम के होने का कारण हो, उसे कार्य-कारण सूचक वाक्य कहते हैं। इसके लिये कम-से-कम दो वाक्यों का...

निषेधपरक संरचना क्या है ? विभिन्न प्रकार की निषेधात्मक संरचनाएँ लिखिए।...

उत्तर-निषेधसूचक संरचना जिन संरचनाओं में किसी कार्य या क्रिया को नहीं करने का बोध हो, वहाँ निषेध-सूचक संरचनाएँ' होती है, जैसे वह बोलता नहीं...

कालबोधक संरचना किसे कहते हैं ? उदाहरण सहित समझाइए। What is...

उत्तर-हम जिन वाक्यों को बोलते लिखते, सुनते या पढ़ते हैं उनसे किसी-न-किसी काल (समय) का बोध होता है, कालबोधक संरचना कहते हैं। कालबोधक वाक्यों...

दिशाबोधक संरचना से क्या तात्पर्य है ? सात अलग-अलग दिशाबोधक शब्दों...

जिन शब्दों से किसी दिशा विशेष का बोध होता है, उन्हें दिशाबोधक शब्द कहते हैं, जैसे-उत्तर, दक्षिण, इधर उधर, तरफ की ओर आदि ।...

‘चाहिए’ क्रिया किस वाक्य संरचना में प्रयुक्त होती है ? उदाहरण...

प्रायः विधिसूचक संरचनाओं में 'चाहिए' क्रिया का प्रयोग होता है, क्योंकि 'चाहिए' क्रिया मानव की इच्छा, आकांक्षा, रुचि, सम्भावना इत्यादि का बोध कराती है।...

विधिसूचक वाक्य की विशेषताएँ उदाहरण सहित लिखिए। Write the characteristics of...

उत्तर-जिन वाक्यों से किसी कार्य के होने का भाव व्यक्त होता है, वे वाक्य विधिसूचक कहलाते है। क्रिया के होने या करने का भाव...

भाषा में विविध संरचनाओं की आवश्यकता क्यों है ? हिन्दी की...

मानव-हृदय के भावों और विचारों की अभिव्यक्ति का प्रमुख साधन भाषा है। ये भाव और विचार मानव की विभिन्न प्रकार की मनोवृत्तियों का दिग्दर्शन...

Ad Blocker Detected!

Refresh